शेयर करे

बाढ़ की भयावह स्थिति बाढ़ ने डुबोया सब कुछ प्रशासनिक दावों की खुली कलई ।

कोई टिप्पणी नहीं
कटिहार/नीरज झा :--- ये तस्वीर ये समझने और समझाने के लिए काफी है की सरकारी खजानों पे बाढ़ और आपदा पीड़ित का नहीं बदरंग शाशन और प्रशासन का पहला हक़ है अगर ऐसा नहीं होता तो बाढ़ से प्रभावित लोग  राहत सामग्री और राहत शिविर के लिए परेशान ना हो रहे होते प्रदर्शन ना कर रहे होते |








 ये तस्वीर कटिहार के अमदाबाद ब्लॉक की है जहाँ गुरूवार को सैकड़ों की संख्या में बाढ़ पीड़ितों ने ब्लॉक का घेराव कर राहत सामग्री और राहत शिविर ना मिलाने की वजह से जम  कर हंगामा खड़ा किया |  ग्रामीणों का कहना है कि पिछले कई दिनों से उनके  घरों के अंदर पानी प्रवेश कर चुका है |




ना शुद्ध पेयजल ना खाना सही मिल पा रहा है | रूखा सूखा खा कर किसी तरह अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं घर के अंदर बाढ़ का पानी आ जाने के कारण किसी तरह चारपाई के ऊपर चारपाई जोड़कर वो अपना जीवन यापन कर रहे हैं लेकिन अब तक प्रखंड मुख्यालय से कोई भी पदाधिकारी बाढ़ पीड़ित परिवारों की शुधी तक लेने नहीं पहुंचे हैं ना ही जिले के कोई भी  तारणहार पदाधिकारी  के द्वारा संतोषजनक आश्वासन ही दिया गया है
कटिहार के मनिहारी  में भी बाढ़ ने सब कुछ डुबो दिया है|

मनिहारी के 11 पंचायत पूरी तरह बाढ़ की चपेट में हैं और कई नए इलाकों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर रहा है  मनिहारी के दिलारपुर पंचायत के वार्ड नंबर 1 का रहने वाला निजामुद्दीन की 2 वर्ष की बेटी की बाढ़ के पानी में डूबने से  मौत हो गई  | बाढ़ पीड़ित अपने छोटे-छोटे बच्चे को लेकर पानी के बिच रहने को विवश है  बद इंतजामी और बदनीयती की सबसे बेशर्म तस्वीर इस इलाकों में देखने को मिलती है जो प्रशासनिक दावों की कलाई खोल कर रख देती है ।


©www.katiharmirror.com

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

लॉकडाउन में दिखी अनियमितता

कटिहार/नीरज झा:--कटिहार मे डायन बनी कोरोना को लेकर पूरी तरह लॉक डाउन लागू है । कटिहार प्रसासन लगातार लोगो को अपने घरों मे रहने की अपील भी क...

Blog Archive