शेयर करे

लोगो ने फरमान जारी कर कहा है पुल नही तो वोट नहीं

कोई टिप्पणी नहीं
KATIHAR/FALKA/NEERAJ JHA ---जैसे जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आ रही हैं नेता जी की गाड़ी भी उसी रफ्तार से गांव टोले मोहल्ले में दिखने लगे है इससे एक सवाल उठने लगा है कि कब तक ये भोली भाली जनता को नेता जी के लुभावनी बातों के शिकार बनते रहेंगे ।




कटिहार जिले के फलका प्रखंड के भरसिया पंचयात के रामनाकोल आदिवासी टोला जो आजादी के 74वा वर्ष गांठ बनाने के वाद भी विकास से कोसो दूर है ये आदिवासी समुदाय के लोग आज भी अपनी जान जोख़िम में डाल कर नदी पर बनी चचरी पुल पर आवागमन करने को मजबूर है। इसपर  आवागमन करने के दौरान पहले भी कई जाने जा चुकी है लेकिन नेता जी बदले सरकार बदली विधायक सांसद बदले लेकिन कोई नेता जी ने इस आदिवासी बहुल क्षेत्र पर ध्यान देना मुनासिब नही समझा । आज भी इस आदिवासी समाज के लोग सरकार के विकाश से कोसो दूर है ।  लेकिन जैसे ही पाँच वर्ष बीत जाने के बाद नेता जी की टोली गांव में घूम रही है ग्रामीणों ने विरोध करना शुरू कर दिया है कहने लगे पुल नही तो वोट नही ।


ग्रामीणों ने  एक सुर में कहा नेता जी चुनाव जीतने के बाद एक बार भी जनता से मिलने नही इतना ही नही मूल भूत सुविधा सड़क बिजली तो है ही नही चारो और नदी होने के कारण गांव से बाहर जाने जाने का एक ही रास्ता है वो रास्ता चचरी पुल हो कर जाता है वो भी गांव के लोगों ने चांद इकट्ठा कर बनाया है ओर इसी चचरी पुल से ही छोटे छोटे बच्चे स्कूल जाते हैं जिसके वजह से बड़ी घटना होती रहती है। बताते चलें की यह क्षेत्र कटिहार विधान मे आता है जिसके विधायक कांग्रेस के पूनम पासवान है और यह क्षेत्र पूर्णिया लोकसभा होने के कारण यहां के जदयू के सांसद संतोष कुशवाह है जिनसे यहाँ के लोगों में खासी नाराजगी देखी जा रही है

©www.katiharmirror.com

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

लॉकडाउन में दिखी अनियमितता

कटिहार/नीरज झा:--कटिहार मे डायन बनी कोरोना को लेकर पूरी तरह लॉक डाउन लागू है । कटिहार प्रसासन लगातार लोगो को अपने घरों मे रहने की अपील भी क...

Blog Archive