शेयर करे

भाजपा के बागी प्रत्याशी के समर्थकों के विरोध पर भाजपा बिहार प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय बैरंग लौटे

कोई टिप्पणी नहीं
कटिहार:कुमार नीरज/कटिहार में लोकसभा के उम्मीदवारी के लिए नामांकन के ही दिन से NDA में बगावती तेवर दिखने लगा है.|दरअसल कटिहार सीट पर भाजपा से mlc अशोक अग्रवाल की दावेदारी थीलेकिन nda की कटिहार लोकसभा की सीट jdu के कोटे में चली गई और nda गठबंधन धर्म का पालन करते हुए कटिहार लोकसभा सीट जदयू के दुलाल चंद गोस्वामी को दे दिया गया.|इसके बाद से ही भाजपा के mlc अशोक अग्रवाल अपनी ही पार्टी भाजपा के बागी हो गए हैं और आखिरकार चुनाव लड़ने की खातिर अपना नामांकन निर्दलीय कर दिया|




अशोक अग्रवाल के नामांकन के बाद बिहार भाजपा के मुख्यालय प्रभारी देवेश कुमार के द्वारा एक चिट्ठी में उन्हें नरेंद्र मोदी को पुनः प्रधानमंत्री बनाने..निर्दलीय चुनाव नहीं लड़ने और जदयू के प्रत्यासी को समर्थन देने की बात कहा गया..लेकिन भाजपा से बागी हुए mlc मानने वाले कहाँ? mlc निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे ही..भाजपा प्रदेश के शीर्ष नेताओं ने mlc अग्रवाल के तेवर को भांप लिया और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष खुद पटना से चलकर mlc के घर बंद कमरे में मान-मनोव्वल का हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा

 लेकिन mlc अपने बगावती तेवर पर कायम रहे|अन्तः mlc को मनाने में असफल प्रदेश अध्यक्ष को बाहर आना ही पड़ा|प्रदेश अध्यक्ष के बाहर आते हीं mlc अशोक अग्रवाल के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय को घेर लिया और अशोक अग्रवाल जिंदाबाद का नॉन स्टॉप नारा लगाते रहे|

.बात यहीं खत्म नहीं हुई..जब प्रदेश अध्यक्ष राय अपनी गाड़ी पर बैठे तो अग्रवाल के समर्थकों ने उनके गाड़ी के सामने जमीन पर सो गए और अशोक अग्रवाल जिंदाबाद का नारा लगाते रहे| mlc के समर्थकों के मिजाज को भांपते ही प्रदेश अध्यक्ष पैदल निकल पड़े|अग्रवाल को भाजपा का उम्मीदवार नहीं बनाने को लेकर स्थिति ऐसा था मानो समर्थकों के द्वारा कुछ भी हो सकता था इसलिए नित्यानंद राय किसी तरह वहां से निकल गये |

हालांकि इसी दौरान पत्रकारों के द्वारा 'बात बनी की नहीं' का सवाल पूछने पर नित्यानंद राय सिर्फ इतना ही कहते रहे कि 'हमलोग सब मिलकर भारत माता की जय बोलते है'..और अंत में बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय ने बिहार में 40 सों सीट nda के द्वारा जीत लेने की बात कहते हुए चलते बने..|


भाजपा बिहार प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय का कहना है
निर्णय आपको पता चल जाएगा.. चलिए..चलिए.. चुप्पी कहाँ साधे हैं.. अरे हम सबलोग मिलकर भारत माता की जय बोलते हैं..बोलते रहेंगे..चलिए, बिहार की चालीस की चालीस सीट जीतेंगे.. 2019 में आदरणीय नरेंद्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाएंगे और बिहार से 40 सांसद मिलकर nda के और नरेंद्र मोदी जी के हाथ को मजबूत करेंगे..

अशोक अग्रवाल इस मामले में कहते है कि
चुनाव लड़ रहे हैं हमलोग.. कटिहार की जनता चुनाव लड़ रही है.. कटिहार की जनता की जो इक्छा है उसका हमलोग इज्जत करते हुए अभीतक चुनाव में हैं और चुनाव लड़ रहे हैं.. पहले तो आप समझ सकते होंगे कि वो क्या कहने आये होंगे.. हमलोगों का पारिवारिक संबंध रहा है उनसे..आज भी है और आगे भी रहेगा.. इसी नाते वो आये थे.. कटुता क्यों आएगी..ये बात ठीक है..प्रदेश उपाध्यक्ष चिट्ठी व्हाट्सअप पर भेजा था और उसको मैंने देखा है.. ठीक है ये उनका निर्णय होगा.. मेरा निर्णय था कि चुनाव लड़ना है..



©www.katiharmirror.com

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

लॉकडाउन में दिखी अनियमितता

कटिहार/नीरज झा:--कटिहार मे डायन बनी कोरोना को लेकर पूरी तरह लॉक डाउन लागू है । कटिहार प्रसासन लगातार लोगो को अपने घरों मे रहने की अपील भी क...

Blog Archive