शेयर करे

Katihar १७ सितम्बर को मनाया जा रहा है विश्वकर्मा पूजा

कोई टिप्पणी नहीं
कटिहार: १७ सितम्बर को विश्वकर्मा पूजा हर साल मनाया जाता है | ऐ
सी मान्यता है की प्राचीन काल में भगवन विश्वकर्मा ने ही स्वर्ग की रचना की थी|
मान्यता के अनुसार भगवान विश्वकर्मा ने ही लंका ,हस्तिनापुर और द्वारका का भी निर्माण किया है|

इतना ही नहीं विह्वाकर्मा धातुओं के भी रचयिता है|

भगवन विश्वकर्मा को अस्त शास्त्रों का भी रचयिता कहा जाता है|
इस दिन सभी कारखानों आदि में विश्वकर्मा की पूजा की जाती है| लोग अपने वाहनों की भी पूजा करते है|

 विश्वकर्मा पूजा हर साल बंगाली महीने भद्र के आखिरी दिन पड़ता है जिसे भद्र संक्रांति या कन्या संक्रांति भी कहा जाता है। 



©www.katiharmirror.com

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

लॉकडाउन में दिखी अनियमितता

कटिहार/नीरज झा:--कटिहार मे डायन बनी कोरोना को लेकर पूरी तरह लॉक डाउन लागू है । कटिहार प्रसासन लगातार लोगो को अपने घरों मे रहने की अपील भी क...

Blog Archive